: vskjharkhand@gmail.com 9431162589 📠

राष्ट्रीय शिक्षा नीति भारतीय शिक्षा व्यवस्था का मील का पत्थर : अतुल भाई कोठारी

रांची, 03 अक्टूबर : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ महाविद्यालयीन विद्यार्थी कार्य विभाग, राँची महानगर द्वारा आयोजित एक दिवसीय कार्यशाला 'राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एक परिचय' में राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास के राष्ट्रीय सचिव अतुल भाई कोठारी ने कहा की राष्ट्रीय शिक्षा नीति भारतीय शिक्षा राष्ट्रीय शिक्षा नीति भारतीय शिक्षा व्यवस्था का मील का पत्थर : अतुल भाई कोठारीव्यवस्था का मील का पत्थर है। जो संस्थान इस नीती को जितना जल्दी अपनायेगा उसे उतना ही अधिक लाभ मिलेगा। पाँच वर्षों तक शिक्षा व्यवस्था में इस नीती के तहत बच्चों को किताबी बोझ से दूर रखा जायेगा। शिक्षकों के ऊपर निर्भर रहेगा की बच्चें की रूची को पहचान कर भविष्य में उसकी दिशा तय करे। प्रत्येक शिक्षकों को राष्ट्रीय शिक्षा नीति के बारे मे अनिवार्य रूप से जानना चाहिये ताकी राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन में सरलता संभव हो सके। उच्च शिक्षा में यह नीति कारगर साबित हो रही है। भारत के कई विश्वविद्यालयों में इसका प्रयोग भी होने लगा है। काशी हिंदु विश्वविद्यालय में अभियांत्रिकी की पढ़ाई हिंदी में होने लगी है।
राष्ट्रीय शिक्षा नीति भारतीय शिक्षा व्यवस्था का मील का पत्थर : अतुल भाई कोठारीउन्होंने कहा की इस नीती को लागु करना सभी को अनिवार्य है। जो इसे जितना पहले अपनायेगा वो उतना ही फायदे में रहेगा। यह नीति मैकाले के शिक्षा नीति जो गुलामी की शिक्षा नीती है उससे हमें मुक्त करेगा।
इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ महाविद्यालयीन विद्यार्थी कार्य विभाग राँची महानगर द्वारा कोरोना योद्धाओं को सम्मानित किया गया। सम्मानित होने वाले योद्धाओं में बी के त्रिपाठी, प्रभात राजन, रंजन पासवान एवं अमन यादव थे। इस अवसर पर अतुल भाई कोठारी द्वारा लिखित पुस्तक शिक्षा की नयी प्रारूप के बंग्ला संस्करण का विमोचन किया गया।
इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के महानगर संघचालक पवन मंत्री, राँची विश्वविद्यालय की कुलपती प्रो कामिनी कुमार, सरला बिरला विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ.गोपाल पाठक, झारखंड राय विश्वविद्यालय की कुलपति डाॅ सबिता सेंगर, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्रीय सेवा प्रमुख अजय कुमार, विभाग संघचालक विवेक भसीन, प्रांत महाविद्यालयीन विद्यार्थी कार्य प्रमुख गोपाल शर्मा, सरला बिरला विश्वविद्यालय के कुलसचिव डा विजय सिंह,कार्यशाला संयोजक पुष्कर उपस्थित थे।मंच संचालन विभाग महाविद्यालयीन विद्यार्थी कार्य प्रमुख डॉ. ओम प्रकाश व धन्यवाद ञापन विभाग कार्यवाह संजीत कुमार ने किया। संगोष्ठी का समापन राष्ट्र गीत वंदेमातरम के साथ हुआ।



LATEST VIDEOS

: vskjharkhand@gmail.com 9431162589 📠 0651-2480502