: vskjharkhand@gmail.com 9431162589 📠

ग्लास ब्रिज : बिहार में भी विदेशों जैसा नजारा देखने को मिलेगा 

ग्लास ब्रिज : बिहार में भी विदेशों जैसा नजारा देखने को मिलेगा रांची, 17 दिसंबर : नालंदा, कभी किसी ने नहीं सोचा था कि बिहार में भी विदेशों जैसा नजारा देखने को मिलेगा। लेकिन अब नालंदा के राजगीर में नेचर सफारी के साथ आपको विदेशों जैसा ग्लास ब्रिज भी मिलेगा, जिस पर चढ़कर आप गहरी खाई का नजारा बगैर किसी खतरे के ले सकते हैं। बिहार का पहला ग्लास ब्रिज बन कर तैयार हो चुका हैं, पार्क इतना अत्याधुनिक और शानदार होगा कि यह पूर्वोत्तर भारत का सबसे अत्याधुनिक जू-सफारी पार्क होगा। जहां पर तरह-तरह के जीव जंतु होंगे। नालंदा के बिहार समेत पूर्वोत्तर भारत के लिए यह खुशखबरी की बात है, राजगीर में बनी जू-सफारी को सेंट्रल जू अथॉरिटी ने भी मान्यता दे दी है। साथ ही नए साल यानि 2021 में इसे आम जनता के लिए खोला जा सकता है।

जू-सफारी पार्क में आपको अत्याधुनिक चीन के तर्ज पर ग्लास ब्रिज पर चलकर काफी रोमांचित महसूस करेंगे। यहां अत्याधुनिक रोप वे का भी निर्माण किया जा रहा है, जिसे बहुत जल्दी आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा।

प्राकृतिक सौंदर्य राजगीर में जू-सफारी पार्क में नेचर सफारी पार्क, तितली पार्क, आयुर्वेदिक पार्क, विभिन्न प्रजातियों के मशहूर देशी-विदेशी पेड़ पौधों तक को दिखाने के लिए अब नए साल में पर्यटकों को सौगात मिलने वाली है।

इसका मकसद ज्यादा से ज्यादा देशी-विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करना है। चीन के हांगझोऊ इलाके में बने 120 मीटर ऊंचे ग्लास ब्रिज की तरह ही राजगीर नेचर सफारी में इस पुल को बनाया गया है।


LATEST VIDEOS

------>

विश्व संवाद केंद्र, झारखण्ड

: vskjharkhand@gmail.com 9431162589 📠 0651-2480502