: vskjharkhand@gmail.com 9431162589 📠

विद्यालय सामाजिक चेतना का केंद्र बने यही हमारा लक्ष्य : मोहंत

विद्यालय सामाजिक चेतना का केंद्र बने यही हमारा लक्ष्य : मोहंतरांची, 14 दिसम्बर : चले जलाएं दीप वहां जहां आज भी अंधेरा है अर्थात  सामाजिक चेतना को जागृत कर समाज के अंतिम व्यक्ति को भी राष्ट्र की मुख्यधारा से जोड़ना हमारा लक्ष्य है और जिसके लिए  हम प्रतिबद्ध हैं । उक्त बातें विद्या भारती के अखिल भारतीय सह संगठन  मंत्री गोविन्द चंद्र मोहंत ने विद्या विकास  समिति झारखंड के प्रांतीय कार्यालय में प्रेसवार्ता  में कही। विद्या भारती पूरे देश के साथ - साथ  झारखंड में भी 243 सरस्वती शिशु विद्या मंदिरों, सरस्वती शिक्षा / संस्कार केंद्रों तथा विद्या भारती  पूर्व  छात्र  परिषद जो आज विश्व  का सबसे बड़ा संगठन है के माध्यम  से देश के युवा पीढ़ी को  शिक्षा के साथ - साथ शारीरिक, प्राणिक , मानसिक, बौद्धिक एवं आध्यात्मिक दृष्टि से मजबूत करने के लिए  समाज एवं राष्ट्र आधारित अनेक गतिविधियाँ चला रही है । पिछले वर्ष से अब तक अपना देश ही नहीं पूरा विश्व कोरोना के विभिन्न वेरिएंट्स से  प्रभावित है। इस कालखंड में भी विभिन्न प्रकार के सामाजिक गतिविधियों एवं सेवा क्षेत्रों में विद्या भारती की सक्रिय भूमिका रही है। कोरोना काल में ऑनलाइन कक्षाओं के माध्यम से शिक्षा को हमने निर्वाध जारी रखा वहीं इसके लिए स्मार्टफोन या लैपटॉप की अनुपलब्धता वाले  विद्यार्थियों के लिए भी मोहल्ला पाठशाला जैसे गतिविधियों को प्रारंभ कर समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े परिवार को भी शिक्षा से जोड़ कर रखा। 

स्वास्थ्य की  दृष्टि से सुदूर जनजातीय, वनवासी क्षेत्रों में भी जागरूकता का कार्य करते हुए हीरालाल नारसरिया ट्रस्ट के  सहयोग से 130000 परिवारों में आर्सेनिक एल्बम 30 नामक होम्योपैथिक दवा का वितरण कर समाज को स्वस्थ रखने से लेकर भोजन पैकेट, मास्क तथा सेनेटाईजर वितरण भी किया।  समाज के हर व्यक्ति में राष्ट्र के प्रति सौहार्द , समर्पण एवं गौरव का भाव उत्पन्न हो इसके लिए हम आजादी के अमृत महोत्सव में बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। झारखण्ड के सरस्वती  शिशु विद्या मंदिरों के भैया बहनों के माध्यम से  65000 पोस्ट कार्ड लेखन का लक्ष्य लिया गया है । साथ ही राष्ट्र गीत का गायन, बाल बलिदानों का  गौरव गाथा, 1947 से 2020 तक के बीच का विज्ञान, कला ,शिक्षा एवं सुरक्षा क्षेत्र में भारत की उपलब्धियों, समाज जीवन में असाधारण व्यक्तित्व, पद्म पुरस्कार एवं परमवीर चक्र प्राप्त वीरों के बारे में जानकारी भी बच्चों को दी जा रही है।

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 जो आज के लिए पूर्ण प्रासंगिक है को भी लागू करने के लिए विद्या भारती के विद्यालय  प्रतिबद्ध हैं और हेतु प्रांत से लेकर विद्यालय स्तर तक कार्यशालाएँ आयोजित हो रही है। 
विद्या भारती अपने कार्यक्रमों को गति देने एवं समीक्षा करने तथा आगामी योजना के लिए विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान की साधारण सभा 25 से 27 मार्च 2022 को रांची में आयोजित होने जा रही है
 इस प्रेस वार्ता में क्षेत्रीय संगठन मंत्री ख्याली राम, क्षेत्रीय  एवं प्रदेश मंत्री राम अवतार नारसरिया तथा प्रदेश सचिव अजय कुमार तिवारी मुख्य रूप से उपस्थित रहे।


LATEST VIDEOS

: vskjharkhand@gmail.com 9431162589 📠 0651-2480502